Uttar Pradesh

UP: लखनऊ के बाबू स्टेडियम में सीएम योगी ने कोरोना टीकाकरण का महाअभियान किया शुरू

लखनऊ, वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ उत्तर प्रदेश में वैक्सीनेशन का एक महाअभियान शुरू हो गया है। 18-44 के साथ 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को इसका लाभ देने के लिए छह हजार से अधिक केंद्रों पर टीकाकारण किया जा रहा है। सरकार का लक्ष्य जून माह में एक करोड़ से अधिक लोगों के कोरोना रोधी टीकाकरण का है।

उत्तर प्रदेश के सभी 75 जनपदों में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी नागरिकों के लिए प्रदेश सरकार की तरफ से नि:शुल्क कोविड टीकाकरण महाभियान प्रारम्भ हो गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को लखनऊ के केडी सिह ‘बाबू’ स्टेडियम में बने एक टीकाकरण केंद्र का निरीक्षण भी किया और कोरोना का टीका लगावाने वालों से बात भी की। उन्होंने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए इस महाभियान को सफल बनाएं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के के.डी. सिंह ‘बाबू’ स्टेडियम में चल रहे कोविड टीकाकरण महाअभियान का जायजा लिया। प्रदेश सरकार की तरफ से 18 से 44 वर्ष के लोगों को और केंद्र सरकार की तरफ से प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों को नि:शुल्क कोरोना वायरस रोधी टीका लगवाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार का लक्ष्य जून में एक करोड़ लोगों के वैक्सीनेशन का है। वैक्सीन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आज सरकार मिशन जून का आगाज करने जा रही है। मिशन जून अभियान के तहत 30 दिन में कम से कम एक करोड़ से लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है।

जून में एक करोड़ से अधिक लोगों को कोरोना वैक्सीन का लाभ देने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सरकार ने छह हजार वैक्सीनेशन सेंटर बनाए हैं। सभी अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि समाज के सभी वर्गों, विशेष रूप से आर्थिक आॢथक रूप से कमजोर वर्ग के लेगों को बिना परेशानी के टीका लगाया जाए। जून में प्रदेश में ड्राइवर, वेंडर, और रिक्शा चालकों के लिए 15 से खास वैक्सीन अभियान चलाया जाएगा। यह ऐसा वर्ग है जिन्हेंं लगातार अपने काम के सिलसिले में कई लोगों से मिलना होता है। लखनऊ में मंगलवार को सीएम योगी आदित्यनाथ कम से कम चार स्थान पर टीकाकरण अभियान का निरीक्षण करेंगे। उन्होंने कहा कि जून के महीने में हमारा लक्ष्य एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की खुराक देना है। अपने इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए हमारे पास पर्याप्त वैक्सीन है। प्रदेश में युद्ध स्तर पर इसकी तैयारी की गई है। स्वास्थ्य अधिकारियों को केंद्र सरकार और वैक्सीन निर्माता कंपनियों के लगातार संपर्क में रहने को भी कहा है जिससे वैक्सीन की सप्लाई पर असर ना पड़े।

प्रदेश में मार्च से चरणवार शुरू कोरोना वैक्सीनेशन के तहत अब तक वैक्सीन की 1,83,32,104 डोज दी जा चुकी है। 34,80,181 लोगों को वैक्सीन की दोनों खुराक दी जा चुकी है। कम से कम एक खुराक प्राप्त करने वालों में से लगभग दो-तिहाई 45 वर्ष और उससे अधिक आयु वर्ग के हैं। 18-44 आयु वर्ग में 34 लाख से अधिक लोगों को टीके की कम से कम एक खुराक मिली है। लखऊ में सर्वाधिक 9.16 लाख लोगों को वैक्सीन लगी है। गौतमबुद्ध नगर में 6.19 लाख, कानपुर नगर में 5.88 लाख, गाजियाबाद में 5.82 लाख, मेरठ में 5.77 लाख, प्रयागराज में 5.76 लाख, वाराणसी में 5.18 लाख और गोरखपुर में 5.15 लाख इससे लाभान्वित हैं।  

Related Articles

Back to top button
Event Services