Uttar Pradesh

अखिलेश यादव ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर

समाजवादी पार्टी के राश्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर ‘नारीशक्ति‘ को हार्दिक बधाई देते हुए कहा है कि समाजवादी ‘आधी आबादी‘ के पूरे सम्मान, सुरक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के लिए प्रतिबद्ध हैं। समाजवादी पार्टी ने पिछले दिनों ही प्रदेश में बढ़ते महिला अपराध, महिला स्वास्थ्य सेवाओं की कमी, मंहगाई, शिक्षा में उपेक्षा, गरीब निराश्रित महिलाओं की पेंशन आदि समस्याओं को लेकर ‘महिला घेरा‘ कार्यक्रम चलाकर भाजपा सरकार में महिलाओं के साथ हो रहे उपेक्षापूर्ण व्यवहार के खिलाफ आवाज उठाई थी।
     भाजपा सरकार में महिलाओं के प्रति अपराधों में बढ़ोत्तरी हुई है। मुख्यमंत्री जी कभी ऐंटी रोमियों स्क्वाड, कभी पिंकबूथ और कभी मिशन शक्ति की खोखली घोषणाओं के जरिए बहकाने का काम करते हैं। महिलाओं के बुनियादी मुद्दों पर कभी भाजपा सोचती नहीं। भाजपा नेतृत्व की पुरूष प्रधान मानसिकता के चलते महिलाओं को विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय सेवाओं के बावजूद वेतन, पदोन्नति और कार्यव्यवहार में विसंगतियों का सामना करना पड़ता है। नेशनल क्राइम ब्यूरों रिपोर्ट में उत्तर प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के प्रति अपराधों में बढ़त को रेखांकित किया गया है। भाजपा सरकार के कारण उत्तर प्रदेश की बदनामी अब राष्ट्रीयस्तर पर भी हो रही है।
      आज ही महिला दिवस पर उत्तर प्रदेश में महिला सुरक्षा के दयनीय हालात बयां करती और भी खबरें है। बदायूं में आंगनबाड़ी कार्यकत्री ने लगाया चौकी में दो सिपाहियों समेत चार लोगों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप। चौरीचौरा में महिला की गला दबाकर हत्या की गई। एटा में घर में घुस कर महिला से दुष्कर्म। आगरा में जिले के थाना बाह क्षेत्र में घर में घुस कर मां-बेटी की हत्या कर दी गई, युवती की भाभी भी हमले में घायल। प्रदेश में हर रोज बहन बेटियों की अस्मत लूटी जा रही है।
मुख्यमंत्री जी के शासनकाल में महिलाओं पर हो रहे अत्याचार की एक बानगी ताजनगरी आगरा में दिखाई दी जहां हर दिन 16 महिलाएं उत्पीड़न का शिकार हो रही हैं। भाजपा सरकार में पुलिस का इस्तेमाल सिर्फ विरोधियों को फंसाने के लिए हो रहा हैं तो महिलाएं कैसे सुरक्षित होंगी? समाजवादी पार्टी की सरकार ने महिलाओं के सम्मान-सुरक्षा के लिए जो कदम उठाए थे भाजपा सरकार ने उन पर भी स्याही डाल दी है।
     समाजवादी पार्टी की सरकार में ही रानी लक्ष्मी बाई सम्मान, महिला पेंशन, कन्या विद्याधन, लैपटाप के साथ महिलाओं से सम्बन्धित अपराधों की रोकथाम के लिए 1090 वूमेन पावर लाइन सेवा शुरू हुई थी। तेजाबी हमलों की शिकार युवतियों को तीन-तीन लाख की सहायता सहित उनके मुफ्त इलाज, की व्यवस्था भी समाजवादी पार्टी की सरकार के समय हुई थी। गर्भवती महिलाओं को अस्पताल लाने-ले जाने के लिए 102 नेशनल एम्बूलेंस सेवा शुरू की गई थी। गर्भवती महिलाओं के पोषक आहार की भी व्यवस्था हुई थी।
     समाजवादी पार्टी की सरकार में श्री अखिलेश यादव ने पूरे प्रदेश में सस्ते सेनेटरी नैपकीन की निर्माण यूनिट की स्थापना को प्रोत्साहित किया था। ग्रामीण महिलाओं में स्वच्छता और स्वास्थ्य की समस्या को दूर करने हेतु पहले चरण में कन्नौज, महोबा एवं बाराबंकी में सस्ते सेनेटरी नैपकीन बनाने वाली सेमी ऑटो मशीन स्थापित की गई थी।
     अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर भाजपा सरकार दिखावे के लिए नारी शक्ति का नाम ले रही है। महिलाओं के प्रति सम्मान प्रदर्शन भी उनके लिए राजनीतिक स्वार्थ साधने और वोट जुटाने का एक जरिया है। अच्छा होता अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर मुख्यमंत्री जी नारी सुरक्षा के लिए जमीन पर कुछ ठोस काम करते और महिलाओं के दिन प्रतिदिन होते अपमान पर रोक लगती लेकिन अब इतनी देर हो गयी है कि जनता भाजपा सरकार पर भरोसा नहीं कर सकती।

किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क AdeventMedia: 9336666601

अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें।

आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं.

हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button
Event Services