UP News

सहकारी क्षेत्र की 18 चीनी मिलों में हुआ पेराई कार्य आरम्भ

चीनी मिलों की पेराई क्षमता का विस्तार हो जाने से गन्ने की अधिक पेराई के साथ ही चीनी उत्पादन में होगी वृद्धि -संजय आर. भूसरेड्डी

सहकारी क्षेत्र में प्रदेश के अन्तर्गत कुल 24 चीनी मिलें स्थापित हैं जिसमें से 18 चीनी मिलों द्वारा पेराई आरम्भ कर दी गई है, शेष 06 चीनी मिलों में नवम्बर माह के अन्त तक पेराई प्रारम्भ हो जाने की सम्भावना है।

पेराई कर रही चीनी मिलों द्वारा अब तक 39.99 लाख कुन्तल गन्ने की पेराई करते हुए 9.18 लाख कुन्तल चीनी का उत्पादन किया जा चुका है जबकि विगत पेराई सत्र में इस अवधि तक 38.12 लाख कुन्तल पेराई करते हुए 2.72 लाख कुन्तल चीनी का उत्पादन हुआ था। सहकारी क्षेत्र में चीनी मिलों का विस्तारीकरण हो जाने से गत पेराई सत्र से अधिक गन्ने की पेराई की जायेगी, जिससे चीनी उत्पादन में भी वृद्धि होगी।

यह जानकारी देते हुए प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग    श्री संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि वर्तमान पेराई सत्र 2020-21 में अब तक सहकारी क्षेत्र की चीनी मिलों द्वारा गत पेराई सत्र की तुलना में 1.87 लाख कुन्तल अधिक गन्ने की पेराई करते हुए 0.11 लाख कुन्तल अधिक चीनी का उत्पादन किया जा चुका है।

पेराई क्षमता का विस्तारीकरण हो जाने से प्रदेश के गन्ना कृषकों को और अधिक गन्ना आपूर्ति करने का अवसर प्राप्त होगा, जिससे कृषकों की आय में भी वृद्धि होगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान पेराई सत्र में सभी प्रधान प्रबन्धकों को यह निर्देश भी दिये गये है कि सभी चीनी मिलों का संचालन पूरी पराई क्षमता के साथ किया जाये।

Related Articles

Back to top button