Health

इन ड्रिंक की मदद से हाई ब्लड प्रेशर को करें कंट्रोल

हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन (Hypertension) एक ऐसी बीमारी है जिसका कोई इलाज नहीं है लेकिन सही खान-पान और लाइफस्टाइल में किए गए कुछ बदलाव से इसको कंट्रोल किया जा सकता है। आपको बता दें कि हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन तब विकसित होता है, जब रक्त धमनियों यानी नसों की दीवारों पर ज्यादा जोर लगाता है। ऐसा होने से जिससे रक्तचाप का स्तर बढ़ जाता है। ब्लड प्रेशर जब भी 140/90 mmHg की ऊपरी सीमा रेखा को पार कर जाता है, तो उसे हाई ब्लड प्रेशर कहा जाता है। शुरुआत में हाई ब्लड प्रेशर उतना खतरनाक नहीं होता लेकिन समय रहता अगर इसे कंट्रोल नहीं किया जाता तो हार्ट अटैक जैसी समस्या को पैदा कर सकता है। इसीलिए जरूरी बात ये है, कि हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को अपनी डाइट पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। ऐसे में हम आपको कुछ ऐसे ड्रिंक्स के बारे में बताने जा रहे है जिनका नियमित सेवन आपको हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद मिलेगी।

सेब का सिरका

सेब का सिरका सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसे एप्पल साइडर विनेगर (apple cider vinegar) के नाम से भी जाना जाता है। एप्पल साइडर विनेगर में एसिटिक एसिड की मात्रा काफी ज्यादा होती है और एसिटिक एसिड दिल के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा सेब के सिरके (apple cider vinegar) में कई विटामिन, एंजाइम, प्रोटीन और लाभ पहुंचाने वाले बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। पोटैशियम से भरपूर सेब का सिरका शरीर से अधिक सोडियम और टॉक्सिन को बाहर निकालता है। रेनिन एंजाइम की उपस्थिति से हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। आप सेब के सिरके को एक गिलास पानी में शहद के साथ मिलाकर सुबह पी सकते हैं। इसके साथ ही इसके सेवन से दिल से जुड़ी कई बीमारियों बचा जा सकता है। एप्पल साइडर विनेगर का सेवन कोलेस्ट्रॉल और ट्राईग्लिसराइड के स्तर को कम करता है। एक गिलास सादे पानी में एक से दो चम्मच सेब का सिरका मिलाकर खाना खाने से आधे घंटे पहले दिन में दो बाद इसका सेवन करें। लीवर के लिए भी इसका सेवन फायदेमंद साबित होता है।

नींबू पानी

नींबू स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके साथ ही शरीर के लिए नींबू पानी (lemon water) भी काफी उपयोगी साबित होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, दिन की शुरुआत एक गिलास नींबू पानी से करना आपके स्वास्थ्य और फिटनेस के लिए बेहद फायदेमंद है। नींबू पानी पीने से आपका पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। और आप पेट संबंधित कई समस्याओं से बचे रहते हैं। नींबू विटामिन सी और बी, कैल्शियम, मैग्नीशियम, कार्बोहाइड्रेट जैसे औषधीय गुणों से भरपूर होता हैं। जो आपको अपच, पेट की गड़बड़ी, डायबिटीज और लीवर जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाते है। ये ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है। नींबू पानी में मौजूद विटामिन सी शरीर से फ्री-रेडिकल्स को दूर कर एक एंटीऑक्सीडेंट का काम करता है। हर सुबह एक गिलास नींबू पानी ब्लड प्रेशर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। इसके साथ ही नींबू पानी को हाई ब्लड शुगर वाले लोगों के लिए बेहतर विकल्प माना गया है। ये विशेषकर उन लोगों के लिए बहुत अच्छा है जो डायबिटीज से जूझ रहे हैं। यह आपके शरीर को शुगर के गंभीर स्तर तक पहुंचाए बिना हाइड्रेट रखता है।

मेथी का पानी

मेथी के दाने सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं। जबकि मेथी का पानी और भी ज्यादा गुणकारी माना जाता है। मेथी का पानी एसिडिटी, कब्ज और पेट से जुड़ी समस्याओं दूर करने में मदद करता है। इसके लिए आपको रोज सुबह खाली पेट मेथी के पानी का सेवन करना चाहिए। मेथी में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो आपके ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता है। दालचीनी और मेथी का एक साथ सेवन से ब्लड शुगर लेवल को भी कंट्रोल किया जा सकता है। मेथी ब्लड में मौजूद ग्लूकोज के लेवल को कम करने में मदद करती है। साथ ही मेथी में अमीनो ऐसिड भी होता है जिसे ऐंटी-डायबीटिक प्रॉपर्टी माना जाता है जिससे इंसुलिन सेंसिटिविटी बढ़ती है और खून में मौजूद शुगर को तोड़ने में मदद मिलती है।

चिया सीड्स

पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण चिया सीड्स का सेवन हमारे लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। चिया सीड्स में ओमेगा-3 फैटी एसिड अधिक होता है, जो हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है। चिया सीड्स को आधे घंटे के लिए पानी में भिगो दें और पानी पी लें। प्रभावी परिणामों के लिए इस प्रक्रिया को नियमित रूप से दोहरा सकते हैं। इसके अलावा चिया सीड्स कैल्शियम का एक बेहतरीन सोर्स माना जाता है और हड्डियों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए आप इसका सेवन कर सकते हैं। दूध के साथ चिया सीड्स का सेवन करने से आपको इसका फायदा खुद ही देखने को मिल सकता है। चियासीड्स के सेवन से मेमोरी पॉवर को बूस्ट करने में मदद मिलती है। इसलिए यदि आप इसका सेवन नियमित रूप से सेवन करते हैं तो यह आपकी याददाश्त को मजबूत बनाने में काफी सहयोग प्रदान करेगा।

चुकंदर का जूस

चुकंदर के रस को “सुपर जूस” माना जाता है। चुकंदर कम कैलोरी वाली सब्जियों की गिनती में आता है, जो हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। चुकंदर में विटामिन, खनिज, और पौधों के यौगिक होते हैं, जो कि लो ब्लड प्रेशर तक को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। लेकिन माना जाता है, कि चुकंदर का जूस हाई ब्लड प्रेशर को मैनेज करने में मदद कर सकता है। आयरन, मैग्नीशियम, फोलेट और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर चुकंदर का जूस एक बेहतरीन पोस्ट वर्कआउट ड्रिंक भी कहा जाता है। विटामिन-बी, विटामिन-सी, फॉस्फोरस, कैल्शियम, प्रोटीन और एंटिऑक्सीडेंट्स सबसे अच्छा स्रोत चुकंदर माना जाता है। चुकंदर में पाए जाने वाले ये तत्व खून साफ करने और शरीर में ऑक्सीजन बढ़ाने में मददगार साबित होते हैं। चुकंदर में पाया जाने वाला फॉस्फोरस बालों की ग्रोथ के लिए अच्छा माना जाता है। चुकंदर इसका नेचुरल सोर्स है, जो बालों को बढ़ने में मददगार है। केवल बाल ही नहीं चुकंदर हमारी त्वचा की रंगत को भी निखारता है।

टमाटर का जूस

टमाटर का उपयोग भोजन के स्वाद को बढ़ाने के लिए खूब किया जाता है। टमाटर में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। टमाटर का जूस ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में भी मददगार माना जाता है। टमाटर का जूस एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित कर सकता है। पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने के लिए टमाटर के जूस में अदरक और नींबू का जूस मिलाकर, थोड़ा-सा सेंधा नमक डालकर पीना चाहिए। टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं, जो डायबिटीज, कैंसर जैसी कई बीमारियों से बचाने में मदद कर सकता है। टमाटर का जूस पीने से वजन को आसानी से कम किया जा सकता है। इतना ही नहीं इसके जूस के सेवन से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का नियंत्रण बना रहता है।

संतरे का जूस

संतरा नेचरल एंटीऑक्सीडेंट होता है और इम्यूनिटी बढ़ाता है, खून साफ करने के साथ ही यह स्टेमिना बढ़ाने में भी मददगार होता है। संतरे में उच्च फाइबरऔर विटामिन C पाया जाता है इसको खाने से जल्दी से भूख नहीं लगती है जिससे वजन नहीं बढ़ता है। संतरे के जूस में पोटेशियम, फोलेट और प्राकृतिक साइट्रस योफ्लेवोनॉइड्स भरपूर होता है। जो हाई ब्लड प्रेशर के लेवल को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है। यह विटामिन बी कॉम्प्लेक्स का स्त्रोत भी है जो हीमोग्लोबिन की मात्रा बढ़ाता है। यह हार्ट रेट और ब्लड प्रेशर रेगुलेट करता है और हड्डियों को मजबूत बनाता है।

अनार का जूस

अनार का जूस स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। अनार में जरूरी विटामिन और पोटेशियम भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो ब्लड प्रेशर के लेवल को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है। दिल के लिए अनार का जूस सबसे फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि यह दिल और रक्त धमनियों को सुरक्षा प्रदान कर सकता है। कई शोध के मुताबिक, यह रक्त धमनियों को चौड़ा और स्वस्थ बनाकर उनमें रक्त प्रवाह को बेहतर बनाता है। इसके अलावा यह आर्टरीज में कोलेस्ट्रॉल और प्लेग के कारण होने वाली रुकावट को भी रोकता है। जिससे हाई ब्लड प्रेशर से राहत मिलती है। अनार का जूस इंफ्लामेशन को कम करने में मदद कर सकता है। इसी वजह से यह हमारी गट हेल्थ में इंफ्लामेशन को कम करने में भी कारगर है। इससे पाचन शक्ति बढ़ जाती है।

बेरी का जूस

क्रैनबेरी एक एक ऐसा फल है। जिसमें विटामिन सी के अलावा कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो स्वास्थ्य के साथ-साथ हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है। इसमें कैलोरी की बहुत कम मात्रा पाई जाती है। साथ ही रसीले बेर में कैंसर कोशिकाओं को पनपने से रोकने का गुण पाया जाता है। अगर आप वजन कम करने के उपाय खोज रहे हैं तो बेर आपके लिए एक अच्छा विकल्प है। इसमें कैलोरी न के बराबर होती है। अगर आप कब्ज की समस्या से जूझ रहे हैं तो बेरी खाना आपको फायदा पहुंचा सकता है। यह पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में मदद करती है। यह दांतों और हड्ड‍ियों को मजबूत बनाती है।

किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क @adeventmedia:9336666601- अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें। आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं, और हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button