UP News

अयोध्या में गूंजेगी रामध्वनि, लगाए जा रहे 3000 साउंड सिस्टम, दिलचस्प होगा नजारा

भगवान राम की नगरी अयोध्या और उसके सभी आसपास के क्षेत्रों में भूमि पूजन के मंगल ध्वनि सुनाई दे इसी प्रयास के तहत 3000 साउंड सिस्टम लगाए जाएंगे।

अयोध्या: राम मंदिर निर्माण के साथ अयोध्या और उसके आसपास के क्षेत्रों को राममय बने, जिसके लिए 3 हजार साउंड सिस्टम लगाया जा रहा है। इसकी जिम्मेदारी महाकुंभ का आयोजन करने वाले आशा एंड साउंड प्रयागराज को दी गई है।आपको बता दें कि, राम नगरी अयोध्या को पावन बनाने के लिए पूरी महानगर में रामधुनी सुनाई दे, इसके लिए बड़े स्तर पर अयोध्या सहित आसपास के क्षेत्रों तक साउंड के माध्यम से रामधुनी को पहुंचाया जाएगा। जिसके लिए साउंड महाकुंभ का आयोजन दिखेगा। पूरे क्षेत्र में 3000 से ज्यादा साउंड के माध्यम से भगवान श्री राम की मंगल धुन दूर-दूर तक पहुंचाई जाएगी। इसके लिए आशा साउंड कंपनी प्रयागराज को जिम्मेदारी दी गई है।

आशा कंपनी के डायरेक्टर प्रवीण मालवीय ने टेलीफोनिक वार्ता के दौरान बताया कि, अयोध्या व उसके आसपास के क्षेत्र में भगवान मंगल ध्वनि सुनाई दे, इसी प्रयास के तहत साउंड सिस्टम लगाया जाएगा। इसके लिए 3000 की संख्या में साउंड लगाए जाएंगे।
इसके साथ ही यह पूरा साउंड सर्विस ऑटोमेटिक सिस्टम के तहत होगा, जिसमें किसी भी समय यहां के उच्च अधिकारी किसी भी स्थान से ऑपरेट कर लोगों से अपील करने का कार्य भी कर सकेंगे। वहीं बताया कि, 3, 4 व 5 को दीपोत्सव जैसा माहौल बने, इसके लिए आशा कंपनी के साउंड सर्विस के माध्यम से अयोध्या में भगवान श्री राम  के धुनों को 24 घंटा प्रसारित किया जाएगा।यह बताया कि, बड़ी स्क्रीन लगाई जायेगीं जो, कोरोना महामारी के एडवाइजरी को प्रभावित कर सकती है। क्योंकि स्क्रीन के आसपास बड़ी संख्या में लोग इकट्ठे होगें।इसलिए इस पूरे आयोजन को साउंड सिस्टम के माध्यम से लोगों को सुनाई दे। इसकी व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही देश के प्रधानमंत्री अयोध्या व देशवासियों को संदेश देने के लिए भी साउंड का प्रयोग किया जा सकेगा।

09 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के विवादित जमीन पर राम मंदिर के पक्ष में फैसला सुनाया
इसके बाद राम मंदिर के निर्माण की गतिविधियां तेज हो गई।

Tags

Related Articles

Close