Life Style

भोजन खाने के ठीक बाद कभी न करें ये काम, नहीं तो सेहत को हो सकती है भारी हानि

उचित भोजन खाने के बाद ज्यादातर लोगों की कुछ भी खाने की आदत होती है. हालांकि, ये ठीक नहीं है क्योंकि अगर हम उसे छोड़ देते हैं, तो ये आदतें हमारी सेहत को फायदा पहुंचानेवाली हो सकती हैं. मिसाल के तौर पर भोजन खाने के बाद कॉफी या चाय पीना लोग पसंद करते हैं जो बहुत नुकसानदेह है. आपकी सेहत के लिए बताए जा रहे हैं कुछ आदतें जिनको भोजन के बाद कभी नहीं अपनाना चाहिए. 

चाय, कॉफी का सेवन- चाय या कॉफी पीने की आदत को भोजन के बाद बदला जाना चाहिए क्योंकि इससे पाचन की समस्या होती है. ये आदत कई समस्याओं जैसे एनीमिया, सिर दर्द, भूख न लगना, ठंडा हाथ- पैर की जिम्मेदार होती हैं. इसलिए खाने से एक घंटा पहले और खाने के एक घंटा बाद चाय या कॉफी का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए. 

फलों का खाना- भोजन खाने के ठीक बाद फलों का खाना भी आपकी सेहत के लिए खराब है. अगर आपका पेट पूरी तरह भरा हुआ है और फलों को खाना शुरू कर देते हैं, तो आपको इन फलों को पचाने में समस्या होगी. उसके कारण, आप फलों से पूरी तरह पोषक तत्वों की प्राप्ति करने में सफल नहीं हो पाएंगे. 

ठंडा पानी पीना- हममें से ज्यादातर लोगों की आदत भोजन के बाद या भोजन के साथ ठंडा पानी पीने की होती है. लेकिन ऐसा नहीं किया जाना चाहिए. खाना खाने के बाद ठंडे पानी भोजन को झुंड बना देता है, इससे पाचन का तंत्र धीमा होता है, और शरीर का भोजन को पचाना दुश्वार हो जाता है. आपको भोजन खाने के 45 मिनट बाद गुनगुना पानी पीना चाहिए. 

स्मोकिंग करना- स्मोकिंग सेहत के लिए नुकसानदेह है. खाने के ठीक बाद स्मोकिंग हमारे शरीर को ज्यादा नुकसान पहुंचाता है. ये इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम की वजह बन सकता है जिसे आगे अल्सर हो सकता है. इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम (आईबीएस) एक तरह बीमारी है जो बड़ी आंत को क्षति पहुंचाती है. इसमें व्यक्ति को पेट में दर्द , पेट में ऐंठन, दस होना, कब्ज या गैस जैसे लक्षण नजर आने लगते हैं.

नहाना- खाने के फौरन बाद न नहाएं. ये शरीर के तापमान में तेज गिरावट का कारण बन सकता है जो शरीर में ब्लड सर्कुलेन को प्रभावित करता है. इस तरह आपका ब्लड अब पाचन में मदद नहीं कर पाएगा और सिर्फ स्किन शरीर का तापमान बनाए रखने में सक्षम होगा. 

सोना- खाने के तत्काल बाद नहीं सोना चाहिए. ये सीने में जलन, स्लीप एपनिया और खर्राटे की वजह बन सकता है. खाने के बाद थोड़ा देर चहलकदमी करें, और फिर सोने जाएं. उसी तरह, भोजन पचाने के लिए आपके शरीर को ऊर्जा की जरूरत होती है. अगर आप इस ऊर्जा को व्यायाम पर खर्च करोगे, तो ये पाचन को धीमा करेगा. लोगों को मिचली, ऐंठन या यहां तक कि डायरिया हो सकता है अगर उन्होंने खराब आदतें अपना ली हैं.

किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क @adeventmedia:9336666601- अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें। आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं, और हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button