National

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना: अब नवम्बर तक 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज

लाकडाउन (LOCKDOWN) के समय शुरू हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY 2020 ) का विस्तार नवम्बर तक किया गया है। मंगलवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम मोदी (PM NARENDRA MODI) ने यह एलान करते हुए कहा कि इस योजना के तहत परिवार के हर सदस्य को पांच किलो गेहूं या चावल मुफ्त में मुहैया कराया जाएगा। हर परिवार को प्रत्येक महीने एक किलो चना दिया जाएगा।

पीएम मोदी (PM NARENDRA MODI) ने कहा कि वर्षा ऋतु के दौरान और उसके बाद मुख्य तौर पर एग्रीकल्चर सेक्टर में ही ज्यादा काम होता है। अन्य दूसरे सेक्टरों में थोड़ी सुस्ती रहती है। जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है।

त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए।

पीएम मोदी ने कहा कि आज यदि सरकार ज़रूरतमंदों को मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय दो वर्गों को जाता है। पहला—मेहनती किसान और दूसरा—ईमानदार टैक्सपेयर। उन्होंने ईमानदारी से टैक्स भरा है, अपना दायित्व निभाया है, इसलिए आज देश का गरीब, इतने बड़े संकट से मुकाबला कर पा रहा है।

PM NARENDRA MODI ने कहा कि हम सारी एहतियात बरतते हुए Economic Activities को और आगे बढ़ाएंगे। हम आत्मनिर्भर भारत के लिए दिन रात एक करेंगे। हम सब ‘लोकल के लिए वोकल’ होंगे।

पीएम नरेन्द्र मोदी (PM NARENDRA MODI) ने कहा कि योजना के विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड (one nation one ration card) की व्यवस्था भी हो रही है

पीएम मोदी (PM NARENDRA MODI) ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम Unlock-Two में प्रवेश कर रहे हैं और हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम, खांसी-बुखार के मामले बढ़ जाते हैं। कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को देखें तो दुनिया के अनेक देशों की तुलना में भारत संभली हुई स्थिति में है।

जब से देश में Unlock-One हुआ है, व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार में लापरवाही भी बढती ही चली जा रही है। फिर से उसी तरह की सतर्कता दिखाने की जरूरत है। विशेषकर कन्टेनमेंट जोंस पर हमें बहुत ध्यान देना होगा। जो भी लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे, हमें उन्हें टोकना होगा। रोकना होगा और समझाना भी होगा।

नरेन्द्र मोदी (PM NARENDRA MODI) ने कहा कि एक और बड़ी बात है जिसने दुनिया को भी हैरान किया है, आश्चर्य में डुबो दिया है। वो ये कि कोरोना से लड़ते हुए भारत में, 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन, यानि परिवार के हर सदस्य को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया गया।

देखें तो, अमेरिका की कुल जनसंख्या से ढाई गुना अधिक लोगों को, ब्रिटेन की जनसंख्या से 12 गुना अधिक लोगों को, और यूरोपियन यूनियन की आबादी से लगभग दोगुने से ज्यादा लोगों को हमारी सरकार ने मुफ्त अनाज दिया है।

Tags

Related Articles

Close