Uttarakhand

देहरादून की इस सीट पर कोई नहीं दे सका भाजपा को चुनौती, जानिए भाजपा और कांगेस से कौन है दावेदार

देहरादून कैंट भाजपा के लिए सुरक्षित सीट रही है। भाजपा के वरिष्ठ नेता हरबंस कपूर इस सीट पर अजेय रहे, जिससे यहां से भाजपा के लिए बीते 20 सालों में किसी तरह की कोई चुनौती खड़ी नहीं हो पाई। इस दफा भी भाजपा उन पर ही दांव खेलने की तैयारी में थी, लेकिन चुनाव से ऐन पहले उनका निधन होने से इस सीट के समीकरण बदल गए हैं। अब सवाल यह है कि कैंट सीट पर कपूर का उत्तराधिकारी कौन होगा। भाजपा उनके परिवार के ही किसी सदस्य पर विश्वास जताती है या नया चेहरा मैदान में उतारती है। इधर, कई साल से यहां जीत तलाश रही कांग्रेस को भी इस बार उम्मीद दिख रही है। यही कारण है कि देहरादून कैंट के लिए कांग्रेस दावेदारों की भी फेहरिस्त काफी लंबी है। आप ने यहां से रविंद्र आनंद को प्रत्याशी घोषित कर दिया है।

भाजपा का प्रमुख दावेदार

सविता कपूर

  • शैक्षिक योग्यता : स्नातक
  • दावेदारी के प्रमुख आधार
  • पति हरबंस कपूर के साथ कई साल से कैंट क्षेत्र में सक्रिय।
  • संस्कार भारती, भारत विकास परिषद, दीनदयाल प्रतिष्ठान, विकल्प संस्था आदि के माध्यम से सामाजिक कार्यों से जुड़ाव।
  • भाजपा महिला मोर्चा की प्रथम महिला संयोजक रहीं।

सुनील उनियाल गामा

  • शैक्षिक योग्यता : 12वीं
  • दावेदारी का प्रमुख आधार
  • देहरादून नगर निगम के महापौर होने के नाते शहर में जाना-पहचाना नाम। -सहज व सरल व्यक्तित्व होने के साथ हर वर्ग पर अच्छी पकड़।
  • राजनीतिक व सामाजिक सक्रियता के कारण आमजन के बीच लोकप्रिय।

जोगेंद्र पुंडीर

  • शैक्षिक योग्यता : 12वीं
  • दावेदारी का प्रमुख आधार
  • संगठन में कई अहम पदों पर रहे हैं, वर्तमान में भाजपा किसान मोर्चा राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य व प्रदेश उपाध्यक्ष।
  • नियमित रूप से सामाजिक कार्यों से जुड़ाव।
  • क्षेत्र में सक्रियता के कारण एक जाना-पहचाना नाम।

कांग्रेस के दावेदार

सूर्यकांत धस्माना

  • शैक्षिक योग्यता : एमए, एलएलबी
  • दावेदारी का प्रमुख आधार
  • कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता, प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष, घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष एवं प्रखर वक्ता।
  • देहरादून कैंट में सामाजिक और राजनीतिक रूप से लगातार सक्रिय।
  • पहाड़ी, पंजाबी व अन्य सभी वर्ग के बीच अच्छी पहचान।

वैभव वालिया

  • शैक्षिक योग्यता : एमबीए
  • दावेदारी का प्रमुख आधार
  • युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव, सोशल मीडिया के आल इंडिया अध्यक्ष।
  • 20 से ज्यादा राज्यों में कांग्रेस का सोशल मीडिया तंत्र तैयार करने की उपलब्धि।
  • शिक्षित युवा चेहरा होने के साथ ही क्षेत्र में सामाजिक रूप से सक्रिय।

वीरेंद्र पोखरियाल

  • शैक्षिक योग्यता : स्नातक
  • दावेदारी के प्रमुख आधार
  • उत्तराखंड राज्य आंदोलन का जाना-पहचाना व चर्चित नाम।
  • डीएवी छात्रसंघ अध्यक्ष, कांग्रेस में विभिन्न पद संभालने के साथ सहकारी बाजार के अध्यक्ष पद पर रहे।
  • सामाजिक सक्रियता के कारण कैंट में हर वर्ग के बीच अच्छी पैठ।
किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क @adeventmedia:9336666601- अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें। आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं, और हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button