Health

इन दालों से बनी खिचड़ी भी होती है बहुत ही ज्यादा टेस्टी और हेल्दी

मकर संक्रांति के दिन ज्यादातर जगहों पर खिचड़ी बनाने, खाने की भी परंपरा है। लोग अलग-अलग तरीकों और चीज़ों से खिचड़ी बनाते हैं। खिचड़ी न सिर्फ झटपट बनने वाली एक डिश है बल्कि सर्दियों में इसे खाने से डाइजेशन भी चुस्त-दुरुस्त बना रहता है। वैसे तो अरहर दाल से बनी खिचड़ी सबसे आम और ज्यादातर लोगों की पसंदीदा होती है लेकिन आप एक बार यहां बताई जा रही खिचड़ी को भी जरूर ट्राय करें जो दूसरी दालों से बनाई जाती है लेकिन इसका स्वाद वाकई कमाल का होता है।

1. मूंग दाल खिचड़ी

सामग्री

मूंग दाल- 1/2 कप, चावल- 3/4 कप, घी- 2 टेबलस्पून, कद्दूकस किया अदरक- 1 टीस्पून, हल्दी पाउडर- 1 टीस्पून, हींग- 1/4 टीस्पून, गरम मसाला पाउडर- 1 टीस्पून, लाल मिर्च पाउडर- 1/2 टीस्पून, नमक- 1.5 टीस्पून, पानी- 5 कप

विधि

दाल और चावल को धोकर कम से कम 10-15 मिनट के लिए पानी में भिगोकर रख दें।

अगर जल्दी है तो भिगोने की प्रक्रिया को छोड़ा जा सकता है।

प्रेशर कुकर में घी या तेल गर्म करें। इसमें जीरा डालकर तड़काएं।

अब इसमें हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, नमक और गरम मसाला डालें।

इसके बाद इसमें दाल और चावल डालकर दो से तीन मिनट तक भूनेंगे जिससे मसाले अच्छी तरह से मिक्स हो जाएं।

अब बारी है पानी मिलाने की।

मीडियम आंच पर 2-3 सीटी आने तक पकाएंगे और फिर खुद से प्रेशर निकलने दें।

तैयार है मूंग दाल की खिचड़ी, जिसे सर्व करते वक्त ऊपर से एक चम्मच घी डालें और अचार, पापड़, दही के साथ लुत्फ उठाएं।

2. माघी खिचड़ी

चना दाल को धोकर दो घंटे के लिए भिगो दें।

बासमती चावल को भी 15 घंटे पहले भिगोकर रख दें।

पैन में घी गर्म करें। इसमें जीरा, लौंग, काली मिर्च, दालचीनी, तेजपत्ता और बारीक कटे लहसुन डालकर खुशबू आने तक भूनें।

इसके बाद इसमें क्यूब्स में कटे आलू और मटर डालकर दो मिनट तक पकाएं।

दो मिनट बाद इसमें भिगोकर रखे चना दाल डालकर और दो मिनट तक भूनें।

इसके बाद चावल की बारी है।

चावल के साथ ही इसमें गरम मसाला, नमक, हल्दी और लाल मिर्च पाउडर डाल दें।

अच्छी तरह मिक्स करके इसमें पानी डालें और ढक्कन लगाकर दो से तीन सीटी आने तक पका लें। प्रेशर को खुद से निकल जाने लें।

तड़के के लिए

तड़का पैन में घी डालें। इसमें हींग, जीरा डालें। जैसे ही तड़कने लगे इसमें काजू, सफेद तिल डालकर हल्का भूनें। साथ ही साबुत लाल मिर्च ही। कुछ सेकेंड भूनने के बाद इस तड़के को खिचड़ी के ऊपर डाल दें।

तैयार है माघी खिचड़ी, जिसे ऊपर से हरा धनिया डालकर सर्व करें।

3. बघारी खिचड़ी रेसिपी

सामग्री

उड़द दाल- 1/4 कप, तुवर दाल- 1/4 कप, चावल- 1/2 कप, सोया चंक्स- 1/2 कप, हल्दी पाउडर- 1/2 टीस्पून, लाल मिर्च पाउडर- 1 1/2 टीस्पून, नमक- 1.5 टीस्पून, गरम मसाला पाउडर- 1/2 टीस्पून, पानी- 4 कप

तड़के के लिए

घी- 2 टेबलस्पून, हींग- 1/4 टीस्पून, जीरा- 1 टीस्पून, हरी मिर्च- 1, साबुत लाल मिर्च- 2-3, अदरक का टुकड़ा- 1 इंच, कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर- 1 टीस्पून

विधि

दाल, चावल को अलग-अलग अच्छी तरह से धोकर रख लें।

सोया चंक्स को गर्म पानी में 5 मिनट रखें और फिर इसका भी पानी निचोड़कर एक प्लेट में रख लें।

प्रेशर कुकर में दाल, चावल और 4 कप पानी और सोया चंक्स डालें।

इसके बाद इसमें हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला पाउडर और स्वादानुसार नमक डालकर दो सीटी आने तक पका लें।

कुकर का प्रेशर खुद से निकलने दें तब तक तड़के तैयार कर लें।

तड़का पैन में दो चम्मच घी डालें।

इसके बाद इसमें हींग, जीरा डालें। जब दोनों भुन जाएं तब इसमें अदरक का टुकड़ा डाल दें। इसके बाद हरी मिर्च और साबुत लाल मिर्च के दो टुकड़े करके डाल दें। सबसे बाद में लाल मिर्च पाउडर डालेंगे।

कुकर का ढक्कन हटाएं और खिचड़ी के ऊपर ये तड़का डालकर ढक्कन बंद कर दें।

जिससे तड़के का स्वाद और खुशबू पूरी तरह से खिचड़ी में मिक्स हो जाए।

तैयार है बघारी खिचड़ी, जिसे आप पापड़, अचार और दही के साथ सर्व कर सकते हैं।

किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क @adeventmedia:9336666601- अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें। आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं, और हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button