UP News

CM योगी की समीक्षा बैठक, गोरखपुर में लग सकता है रात का कर्फ्यू

गोरखपुर जिले में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कभी भी रात्रि कर्फ्यू का ऐलान किया जा सकता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में गोरखपुर मंडल के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ कोरोना से बचाव से जुड़ी तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में गोरखपुर के डीएम के विजयेंद्र पांडियन को निर्देश दिए कि बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए जल्द से जल्द रात्रि कर्फ्यू लगाने का निर्णय लें।

 मेडिकल कॉलेज के प्रशासनिक विभाग स्थित सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने कोरोना से बचाव की तैयारियों की जानकारी ली। गोरखपुर मंडल के सभी सीएमओ और अपर निदेशक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण ने अपने जिलों में तैयारियों के बारे में मुख्यमंत्री को जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि कोरोना संक्रमित मिलने पर उसके संपर्क में आए कम से कम 25 लोगों की हर हाल में जांच हो और यदि वह संक्रमित नहीं मिलते हैं तो भी उन पर निगरानी रखी जाए। जांच का दायरा लगातार बढ़ाया जाए। जिन इलाकों में कोरोना के ज्यादा मामले मिलें वहां एंबुलेंस भेजकर ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच कराई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर हाल में कोरोना पर नियंत्रण पाना है।

 बीआरडी में बढ़ेंगे बेड

मुख्यमंत्री ने बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में कोरोना मरीजों के इलाज की समीक्षा की। उन्होंने प्राचार्य डॉ गणेश कुमार से बेड की संख्या के बारे में जानकारी ली। प्राचार्य ने बताया कि कोविद अस्पताल में वर्तमान में 150 बेड क्रियाशील हैं। मुख्यमंत्री ने 50 और बेड बढ़ाने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि मैनपावर की जरूरत का प्रस्ताव बनाकर शासन में भेजें इसे तत्काल स्वीकृति दी जाएगी।

जिले में 6000 जांच रोजाना हो रही

 मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुधाकर पांडेय ने बताया कि जिले में रोजाना 6000 लोगों की कोरोना जांच की जा रही है। मुख्यमंत्री ने इसका दायरा और बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। 56 केंद्रों पर कोरोना जांच कराई जा रही है। साथ ही पांच एंबुलेंस भेजकर भी जांच कराई जा रही है।

Related Articles

Back to top button