Biz & Expo

साल के आखिरी महीने दिसंबर में कुछ नियमों में होंगे बदलाव, जानिए किन लोगों के लिए होगा जरुरी ..

दिसंबर का महीना शुरू होने मे केवल दो ही दिन का समय शेष रह गया है। अगले महीने शुरुआत से कुछ नियमों में भी बदलाव होने जा रहा है, जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ सकता है। ऐसे में इन बदलावों को जान लेना चाहिए, जिससे भविष्य में आपको किसी भी मुश्किल का सामना नहीं करना पड़े।

बता दें, एक दिंसबर से जिन चीजों को लेकर बदलाव होने उनमें पेंशनर्स को अपना लाइफ सर्टिफिकेट, सीएनजी, पीएनजी एवं एलपीजी के रेट और ट्रेनों का समय शामिल हैं।

लाइफ सर्टिफिकेट की आखिरी तारीख

अगर आपका नाम सरकार से पेंशन लेने वाले लोगों में आता है, तो आपको 30 नवंबर 2022 तक लाइफ सर्टिफिकेट जमा करना होगा। अगर आपने अब तक ऐसा नहीं किया है, तो तुरंत बैंक ब्रांच या फिर आनलाइन अपना लाइफ सर्टिफिटेक जमा कर सकते हैं। वहीं, आप अपना लाइफ सर्टिफिटेक नहीं जमा कराते हैं, तो फिर आपकी पेंशन रुक सकती है।

CNG,PNG और LPG की कीमतों में बदलाव

सरकार की ओर से हर महीने की शुरुआत में सीएनजी, पीएनजी और एलपीजी के दाम जारी किए जाते हैं। पिछले कुछ महीनों से अंतरराष्ट्रीय बाजार में गैस के दाम बढ़ने के कारण सीएनजी-पीएनजी के दामों में काफी इजाफा हो चुका है। इस महीने की शुरुआत में वाणिज्यिक एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमत में 115 रुपये कम किए गए थे।

ट्रेनों के समय में बदलाव

रेलवे द्वारा दिसंबर के महीने में ठंड और कोहरे के कारण ट्रेनों के समय में बदलाव किया जाता है। वहीं, दिसंबर से फरवरी-मार्च ट्रेनें रद रहती हैं। वो भी एक दिसंबर से लागू हो जाएगा।

बैंकों में 13 दिन की छुट्टी

साल के आखिरी महीने दिसंबर में क्रिसमस, साल का आखिरी दिन और गुरु गोबिंद सिंह जी का जन्मदिन जैसे बड़े उत्सव होने के कारण बैंक 13 दिनों के लिए बंद रहेंगे। ऐसे में अगर आप बैंक के किसी साल के आखिरी महीने दिसंबर में क्रिसमस, साल का आखिरी दिन और गुरु गोबिंद सिंह जी का जन्मदिन जैसे बड़े उत्सव होने के कारण बैंक 13 दिनों के लिए बंद रहेंगे। ऐसे में अगर आप बैंक के किसी जरूरी कार्य को लंबे समय से टालते आ रहे हैं, तो जल्द निपटा लें।

किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क @adeventmedia:9336666601- 
अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें।
आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं.
हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button