Food & DrinksLife Style

शराब के सेवन को लेकर डब्ल्यूएचओ ने एक चौंकाने वाला किया खुलासा, जान कर हो जाएंगे हैरान..

नए साल की शुरुआत के साथ ही सर्दी का सितम भी बढ़ने लगा है। दिल्ली समेत पूरा उत्तर भारत इस समय कड़ाके की ठंड से कंप रहा है। ऐसे में लोग खुद को ठंड से बचाने और सर्दियों में गर्म रहने के लिए कई तरह के उपाय कर रहे हैं। वहीं, कुछ लोग ऐसे भी है, जो ठंड से गर्माहट पाने के लिए अल्कोहल का सेवन कर रहे हैं। शराब और धूम्रपान ऐसी आदतें हैं, जो हमारी सेहत के लिए काफी हानिकारक है। कुछ लोगों का ऐसा मानना है कि शराब की लत या आदत आपको नुकसान पहुंचाती है, लेकिन सीमित मात्रा में इसका सेवन करना नुकसानदेय नहीं है। हालांकि, हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) इसे लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। हाल ही में सामने आई इस शोध के मुताबिक शराब की एक बूंद भी आपके लिए हानिकारक साबित हो सकती है।

शराब की एक बूंद भी जहर

विश्व स्वास्थ्य संगठन की मानें तो अगर कोई व्यक्ति शराब का सेवन करता है, तो वह उसी समय कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की अपना पहला कदम बढ़ा लेता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उसने शराब थोड़ी मात्रा में पी है या ज्यादा। दरअसल, डब्ल्यूएचओ ने दावा किया है कि शराब की एक बूंद भी आपके लिए जहर के समान है। हाल ही में डब्ल्यूएचओ ने प्रकाशित किए गए अपने बयान में कहा कि जब शराब के सेवन की बात आती है, तो इसकी ऐसी कोई सुरक्षित मात्रा नहीं है, जिससे सेहत पर असर न पड़े। गैर-संचारी रोग प्रबंधन और क्षेत्रीय सलाहकार डॉ. कैरिना फेरेरा-बोर्गेस के मुताबिक शराब के उपयोग के कथित सुरक्षित लेवल को लेकर कोई भी दावा नहीं किया जा सकता है।

सात तरह के कैंसर का बढ़ता है खतरा

अपनी इस रिपोर्ट में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यह भी बताया कि शराब एक हानिकारक पेय पदार्थ है, इसलिए जितना संभव हो इससे बचना चाहिए। साथ ही यह भी साफ किया कि शराब का ऐसा कोई भी तय पैमाना नहीं है, जिससे यह पता किया जाए कि कम पीने से नुकसान नहीं है और ज्यादा शराब पीने से सेहत पर हानिकारक प्रभाव पड़ेगा। शराब के सेवन को लेकर किए गए इस खुलासे में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यह भी बताया कि शराब पीने से सात तरह के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। इस सात प्रकार के कैंसर में थ्रोट कैंसर, लिवर कैंसर, कोलन कैंसर, माउब कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर ऐसोफैगस कैंसर आदि शामिल हैं।

कैंसर की वजह बनती है अल्कोहल

शराब पीने पर सामने आई इस रिपोर्ट के बाद यह कहना मुश्किल है कि थोड़ी-थोड़ी मात्रा में शराब पीने से आपको कोई गंभीर परिणाम नहीं भुगतने पड़ेंगे। वह लोग जिनका यह मानना है कि कम मात्रा में शराब पीने से सेहत को हानि नहीं पहुंचती, उनका यह अनुमान बिल्कुल गलत है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की इस स्टडी के मुताबिक इथेनॉल (अल्कोहल) बायोलॉजिकल सिस्टम के जरिए कैंसर की वजह बनता है। इससे यह साफ है कि शराब कम मात्रा पी जाए या ज्यादा, यह आपको कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की तरफ धकेल सकती है। ऐसे में यह कहना भी गलत नहीं होगा कि शराब कम पी जाए या ज्यादा, यह कैंसर की वजह बन सकती है।

Related Articles

Back to top button
Event Services