National

ताजमहल से एक चौंका देने वाला मामला आया सामने

दुनिया के 7 अजूबों में शामिल ताजमहल से एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, इस ऐतिहासिक ईमारत की खूबसूरती का दीदार करने आए एक टूरिस्ट को CISF के जवानों ने ताजमहल में प्रवेश नहीं करने दिया। CISF ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि उसके साथ लड्डू गोपाल की मूर्ति थी। घटना ताजमहल के पश्चिमी गेट की है। आरोप है कि CISF ने टूरिस्ट से कहा कि, ‘मूर्ति को लेकर आप अंदर नहीं जा सकते।’

सुरक्षाकर्मियों के इतना कहने के बाद सैलानी अपने परिवार के साथ ताजमहल देखे बगैर ही वापस लौट गया। वहीं, यह मामला सामने आने के बाद हिंदू संगठनों ने इसका विरोध जाहिर किया है। इसके लिए संगठनों ने पुरातत्व विभाग से माफी मांगने के लिए कहा है। यदि विभाग ऐसे नहीं करता है, तो हिंदू संगठनों ने आंदोलन करने की धमकी दी है। यही नहीं संगठनों ने हिंदुओं से ताजमहल न आने का भी आग्रह किया है। बताया जा रहा है कि जयपुर के रहने वाले गौतम सोमवार को दोपहर करीब ढाई बजे अपने परिवार के साथ ताजमहल का दीदार करने पहुंचे थे। इस दौरान उनके साथ एक डलिया में लड्डू गोपाल की प्रतिमा भी मौजूद थी। 

गौतम जैसे ही ताजमहल के पश्चिमी गेट पर पहुंचे तो उन्हें सुरक्षाकर्मियों ने रोक दिया। घटना की जानकारी देते हुए गौतम ने कहा कि, ‘मैं लड्डू गोपाल और अपने परिवार के साथ ताजमहल देखने गया था, मगर पश्चिमी गेट पर CISF ने मुझे रोक लिया और लड्डू गोपाल को भीतर ले जाने से मना कर दिया। उन्होंने शर्त रखी कि लड्डू गोपाल को कहीं रख आओ, इसके बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। इसलिए मैं बिना ताजमहल देखे वापस लौट आया।’

रिपोर्ट के अनुसार, लड्डू गोपाल के साथ गौतम को ताजमहल में प्रवेश न मिलने से हिंदूवादी आक्रोशित हो गए। हिंदू नेता गोविंद पराशर ने कहा है कि, कई बार ताजमहल में हिंदुओं का तिरस्कार किया जाता रहा है। इसलिए अब हिंदुओं को ताजमहल देखने नहीं जाना चाहिए। लड्डू गोपाल को रोकने वालों पर कार्रवाई होने चाहिए, वरना राष्ट्रीय हिंदू परिषद भारत के कार्यकर्ता स्मारक के बाहर अनिश्चितकाल भूख हड़ताल करेंगे।

किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क @adeventmedia:9336666601- 
अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें।
आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं.
हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button