National

जानिए किस वजह से पाकिस्तान में इन दिनों मची है हाय-तौबा, जानें पूरी ख़बर

भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में इन दिनों हाय-तौबा मची है। आतंकपरस्त देश पाक इस वक्त भयावह आर्थिक संकट और दिन ब दिन बढ़ती महंगाई के बाद बिजली संकट झेल रहा है। हालांकि कई शहरों में बिजली वापस आ गई है। फिर भी हालत ये हैं कि पाकिस्तान में कमर्शियल गैस सिलेंडरों के दाम 10 हजार पार कर गए हैं। जबकि, दूध के दाम 150 रुपये हो गए हैं। इस बीच 30 शहरों में बत्ती गुल पाकिस्तान सरकार की दयनीय हालत बयान कर रही है। इस खस्ता हालत के बावजूद पाकिस्तान के वजीर-ए-आजम शहबाज शरीफ इमरान खान से लड़ाई में मशगूल हैं। उन्हें पाकिस्तान की हालत सुधारने के बजाय अपने बड़े भाई नवाज शरीफ की वापसी और इमरान खान से लड़ाई की ज्यादा चिंता सता रही है। 

जिस वक्त पाकिस्तान के 30 शहरों में बत्ती गुल हो गई, उस दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ इमरान खान पर आरोप लगाने में बिजी थे। उन्होंने पीटीआई के अध्यक्ष इमरान खान पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के नेता नवाज शरीफ को पीएम पद से हटाने के लिए साजिश रचने का आरोप लगाया। पाकिस्तान के द न्यूज इंटरनेशनल के मुताबिक, शरीफ ने कहा कि उनके बड़े भाई को सत्ता से हटाने के लिए रची गई साजिश का हिस्सा इमरान खान भी थे।

नवाज शरीफ की यह टिप्पणी हाल ही में एक साक्षात्कार में इमरान खान के उस दावे के बाद आई है, जिसमें कहा गया था कि पूर्व सेना प्रमुख जनरल (आर) कमर जावेद बाजवा ने पनामा पेपर्स मामले में संयुक्त जांच दल (जेआईटी) में “दो ब्रिगेडियर भेजे थे” जिसके कारण अंततः नवाज शरीफ को अयोग्य ठहराया गया था। द न्यूज इंटरनेशनल ने बताया, “अपने जेआईटी में, जनरल (आर) बाजवा ने दो ब्रिगेडियर भेजे थे, जिन्होंने बाद में नवाज शरीफ के पनामा मामले को साबित कर दिया।”

शहबाज शरीफ ने जवाब में इमरान खान को अराजकता और अराजकता का एजेंट बताया। शरीफ ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘जवाबदेही के नाम पर नवाज शरीफ को सत्ता से बेदखल करने और पीएमएल-एन को शिकार बनाने की साजिश का हिस्सा इमरान हैं।’ 2013 से इमरान खान देश में अराजकता और अराजकता का एजेंट रहा है। द न्यूज इंटरनेशनल के हवाले से उन्होंने आगे कहा, “उनके जहरीले बयानों ने राजनीति को बदनाम किया है, समाज का ध्रुवीकरण किया है और राज्य के संस्थानों को कमजोर किया है।” 

पाकिस्तान में हाय-तौबा मची है
पाकिस्तान में इस वक्त हाय-तौबा मची है। देश के लोगों को भुखमरी और महंगाई से बचाने के लिए पीएम शहबाज शरीफ दुनिया के कई देशों से मदद की गुहार लगा रहे हैं। उन्होंने सऊदी अरब, यूएई समेत कई मुस्लिम देशों से आर्थिक मदद मांगी है। पाकिस्तान पर विदेशी कर्ज कई गुना बढ़ गया है। इसके अलावा चरम पर महंगाई के बीच सोमवार को पाकिस्तान के कई बड़े शहरों में बिजली संकट हो गया। यहां तक कि संसद भवन की बत्ती भी 3 दिनों के लिए गुल हो गई है। जवाब में शहबाज के ऊर्जा मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने कहा है कि रिपेयरिंग का काम तेजी से चल रहा है। जल्द ही हालात सामान्य होंगे।

किसी भी प्रकार के कवरेज के लिए संपर्क @adeventmedia:9336666601- 
अन्य खबरों के लिए हमसे फेसबुक पर जुड़ें।
आप हमें ट्विटर पर फ़ॉलो कर सकते हैं.
हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button