Share with your friends










Submit

Press Conference at Gorakhpur

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री प्रमोद तिवारी जी ने आज गोरखपुर में आयेाजित प्रेसवार्ता में कहा कि छठें चरण के चुनाव के बाद देश में लगभग 90 प्रतिशत मतदान सम्पन्न हो चुका है। जनता के रूझान से यह बात उभर कर सामने आ गयी है कि चुनाव के बाद कांग्रेस और सहयोगियों को स्पष्ट बहुमत मिलेगा तथा यूपीए-1 और यूपीए-2 की तर्ज पर कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए-3 की सरकार का गठन केन्द्र में होगा। इसकी स्पष्ट छाया प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के चेहरे पर दिखाई पड़ने लगी है और इसीलिए मोदी जी प्रधानमंत्री पद की गरिमा और भाषा की मर्यादा पूरी तरह भूल गये हैं।ं
श्री तिवारी ने कहा कि मोदी सरकार के पतन के निम्न मुख्य कारण हैंः-
1. वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में जनता को दिये गये वचन को न निभाना।
2. भारत के आर्थिक ढांचे को पूरी तरह तहस-नहस करना। डाॅलर के मुकाबले रूपये में सर्वाधिक गिरावट, बेशुमार कर्ज और प्रो-पूंजीपति नीति के कारण भारत की अर्थव्यवस्था का ढांचा चरमरा गया है।
3.. किसान, मजदूर, बेरोजगार, नौजवान और व्यापारी- सभी मोदी सरकार की उपेक्षा के शिकार हुए हैं। बेरोजगारी की दर पिछले 45 सालों में मोदी सरकार में सर्वाधिक बढ़ी है।
4. प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में लोकसभा का यह चुनाव ‘‘गांधी बनाम गोंडसे’’ की भाषा में लड़ा गया। एक तरफ जहां कांग्रेस और उनके साथियों ने गांधी का प्रतिनिधित्व किया वहीं भारतीय जनता पार्टी गोंडसे की विचारधारा पर चुनाव लड़ी। अतः यह चुनाव गांधी बनाम गोंडसे हो गया।
5. ‘‘छद्म राष्ट्रवाद’’ का भारतीय जनता पार्टी का प्रयोग विफल हुआ।
श्री तिवारी ेन कहा कि समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी (स0पा0-ब0स0पा0) का गठबन्धन केन्द्र में सरकार नहीं बना सकता है ये बात अब जनता की समझ में पूरी तरह आ गयी है और इसीलिए जनता का रूझान अब पूरी तरह से कांग्रेस की तरफ है।
उन्होने कहाकि केन्द्र में स्थिर और स्थायी सरकार देने वालों के समक्ष कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी विकल्प है और इसीलिए भारतीय जनता पार्टी की सत्ता हटाने की इच्छा रखने वाले लोग/मतदाताओं ने कांग्रेस में विश्वास व्यक्त किया है।
श्री तिवारी ने जोर देते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी सरकार के कुशासन, भ्रष्टाचार तथा वायदाखिलाफी से ऊबे हुए मतदाताओं ने भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ कांग्रेस के पक्ष में मतदान किया है।

More share buttons
Share on Pinterest
Share with your friends










Submit

Leave a Reply

+ +