Religious

कांवड़ यात्रा को बदनाम करने की साजिश

बात यूपीए के कार्यकाल की है, जब पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम को एक बार फिर धता बताते हुए भारतीय चौकियों को निशाना बनाया था। तब केंद्रीय मंत्री पी.चिदम्बरम ने संसद में इस मामले में सफाई देते वक्त कहा था कि आतंकवादियों ने पाक सेना की वर्दी में भारतीय सेना पर हमला किया। चिदम्बरम के इस बयान की काफी आलोचना हुई क्योंकि उनका यह बयान पाकिस्तान के प्रवक्ता की तरह नज़र आया। सवाल उठे कि बिना जांच के चिदम्बरम को कैसे पता चल गया कि यह हमला पाक सेना ने नहीं बल्कि आतंकवादियों ने किया था?
अभी कांवड़ यात्रा चल रही है और कांवड़िए श्रद्धा के साथ भोले की भक्ति में लीन होकर अपनी भक्ति में लगे हैं। सावन के महीने को भगवान शिव की आराधना का पर्व माना जाता है और इस महीने देश के विभिन्न भागों में कांवड़ यात्रा निकाली जाती है। इस यात्रा में पवित्र नदियों का जल कांवड़ में भरकर श्रद्धालु पैदल शिव के आराधना स्थल तक पूरी पवित्रता के साथ ले जाते हैं और उस जल से भगवान का अभिषेक करते हैं। इस यात्रा के दौरान यात्रियों को इस जल से भरे कांवड़ की भी सुरक्षा करनी होती है

Related Articles

Close